XXX Vale – Hindi XXX Stories For Adults

18+ Sexually Explicit Contents

रेल गाड़ी में मोटा लण्ड अपनी फुद्दी में गुसवा कर स्पर्म की गर्मी महसूस करी

रेल गाड़ी में मोटा लण्ड अपनी फुद्दी में गुसवा कर स्पर्म की गर्मी महसूस करी हिंदी फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में : दोस्तों मै आज आप को रेल गाड़ी में चुदवाने वाली मेरी खुद की गन्दी हिंदी फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में लेकर आयी हूँ. दोस्तों एक दिन मै रेल गाड़ी में एसी कोच से बेंगलुरु जा रही थी. ट्रेन मै मेरे बिलकुल सामने एक जवान युवक बैठा था. वो लड़का दिखने में एक मॉडल जैसा था उसे देखते ही मेरा मन उससे चुदवाने को हो गया. वह जवान युवक भी मुझे हवस से भरी गन्दी नजरो से बार बार देखे जा रहा था उसकी नजरें मेरे मोटे मोटे ब्रेस्ट को घुर रही थी वो लड़का जैसे मुझ पर जादू कर रहा था. यह भी देखे >> अपना 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा लण्ड गांव की लड़की कीयोनी में डाल दिया

वो लड़का मेरे बदन को निहार रहा था और मै उसके बदन को किन्तु हमारी बात करने की हिम्मत नहीं हुई. फिर कुछ देर बाद हवस के पुजारी उस जवान युवक ने बात की शुरुआत करी उसने मुझसे मेरा नाम पूछा इसके बाद मैंने उस लड़के से उसका नाम पूछा तो उसने अपना नाम राहुल बताया. अब हम दोनों की अच्छी जान पहचान हो गयी थी. हम दोनों एक दूसरे से बात करने लगे थे राहुल ने मुझसे पूछा आप क्या करती हैं? मैंने उसे बताया मैं एक एड एजेंसी में काम करती हूं और उसी के सिलसिले में मैं बेंगलुरु जा रही हूं. राहुल मुझसे कहने लगा मेरे भाई साहब भी बेंगलुरु में ऐड एजेंसी में है. मैंने उससे पूछा तुम्हारे भाई साहब कौन सी एड एजेंसी में है।

उसने जिस एड एजेंसी का नाम मुझे बताया मुझे उसी कंपनी में काम के सिलसिले में जाना था. मैंने राहुल से कहा चलो यह तो बहुत ही ज्यादा अच्छा हुआ जो तुम से मेरी मुलाकात हो गई. मैने राहुल से पूछा तुम क्या करते हो? राहुल ने मुझे कहा मैं एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हूं मैं भी बेंगलुरु में ही जॉब करता हूं. हमरा साथ कुछ वक्त के लिए ही था राहुल मेरा अच्छा फ्रेंड बन चुका था. राहुल और मैं आपस में बात कर रहे थे बगल में बैठे हुए अंकल हम दोनों को बड़ी ही अजीब नजरों से देख रहे थे. मुझे कुछ ठीक नहीं लग रहा था.

  कॉलेज की फ्रेंड को अपने कमरे में चोदा हिंदी संभोग कहानी

रेल गाड़ी में मोटा लण्ड अपनी फुद्दी में गुसवा कर स्पर्म की गर्मी महसूस करी हिंदी फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में

रेल गाड़ी में चुदाई करी गहरी नींद में सो रही अनजान लड़की और बहिन की Hindi Chudai Ki Kahani Brother And Sister Sex Story 5
रेल गाड़ी में चुदाई करी गहरी नींद में सो रही अनजान लड़की और बहिन की Hindi Chudai Ki Kahani Brother And Sister Sex Story 5

दोस्तों नाईट होने वाली थी मुझे सुस्सू लगी थी तो मैंने राहुल से कहा मैं अभी आती हूं? फिर मै सुस्सू करने  स्नानघर में चली गई और कुछ देर बाद सुस्सू करके वापिस आगई. मैंने मेरी कंचो जैसी मोटी मोटी आँखों से देखा के  राहुल अपने मोबाइल में गेम गेम रहा है. दोस्तों उसे दीख मेरी फुद्दी मै खुजली हो रही थी मेरा मन उसके साथ सेक्स करने को बहुत बेताब हो रहा था. मै बार बार अपनी प्यासी नजरो से राहुल की तरफ देखे जा रही थी. फिर मैं सोचने लगी मै राहुल से बात करूं मैंने आखिरकार राहुल से बात की तो राहुल कहने लगा तुम्हारा कोई यार है? मैंने उसे कहा नहीं मेरा कोई यार नहीं है किन्तु हम दोनों तो जैसे एक दूसरे की बातों में इतना खो गए थे कि मेरा मन राहुल के साथ सेक्स करने का होने लगा. मैंने अपने मोटे मोटे दूध से भरे गोल गोल स्तनों को राहुल को दिखाना प्रारम्भ करा फिर वो हवस का पुजारी भी मेरे मोटे मोटे दूध से भरे गोल गोल स्तनों को देख सेक्स करने के लिये उत्तेजित होने लगा. यह भी देखे >> रांड माँ की बहिन ने मुझे पटा कर अपनी फुद्दी में मेरा काला मोटा लण्ड डलवाया

राहुल ने अपना मोटा लण्ड पेंट से बाहर निकाला और हिला हिलाकर मुठ मारना शुरू कर दिया. मै राहुल का मोटा लण्ड देखे जा रही थी उसका लण्ड बहुत बड़ा था मेरे ख्याल से उसका लण्ड कीब 12 इंच का तो होगा. वो बहुत शानदार तरीके से अपने पेनिस को हिला रहा था. मुझसे अब रहा नहीं गया और हम दोनों ही स्नानघर में चले गए स्नानघर में जाते ही मैंने राहुल का मोटा लण्ड अपने हाथ में ले लिया और उसे हिलाना शुरू कर दिया और उसका मुठ मारने लगी. उसका लण्ड और भी ज्यादा कड़क होने लगा था मैंने जैसे ही मैंने उसका मोटा लण्ड अपने मुंह में लेकर चुसना प्रारम्भ करा तो उसे भी अपने मोटे पेनिस को चुसाने में आनंद आने लगा।

  पजामा खोल उसकी चड्डी उतार दी नॉनवेज सेक्स स्टोरी

मैंने उसके पेनिस को इतने बुरे तरीके से चूसा की उस साले चोदू के तंदरुस्त और फौलादी लण्ड से पानी बाहर निकाल दिया था. उसके मोटे लण्ड से जब पानी बाहर निकल आया तो वह मेरी चुदाई करने के लिये पूरी तरह से उत्तेजित हो चुका था. जैसे ही उसने मेरी फुद्दी के भीतर अपना मोटा लण्ड गुसेडा तो मेरे मुंह से भयँकर खतरनाक असहनीय दर्द से भरी चीख निकली. उसने मेरी फुद्दीड़ों को कसकर पकड़ा हुआ था और बड़ी तेज गति से वह मेरी फुद्दी के भीतर अपने पेनिस को प्रवेश करवाए जा रहा था मेरे मुंह से चीख निकलती. मैं राहुल से बोलने लगी प्लीज आहिस्ता आहिस्ता चोदो मेरी फुद्दी को मुझे बहुत तेज दर्द हो रहा है किन्तु उसने मेरी एक नहीं सुनी और वो मेरी ताबड तोड़ चुदाई करता रहा.

कुछ देर की चुदाई के  बाद मेरी फुद्दी थोड़ी ढीली पड़ चुकी थी जिस कारण दर्द काम हो गया अब मै भी सेक्स का आनंद लेने लगी और बोलने लगी के राहुल मुझे तुम्हारे साथ सेक्स करके बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा है तुम्हारा मोटा लण्ड अपनी फुद्दी में लेकर ऐसा लग रहा है जैसे कि ना जाने बरसो की फुद्दी चुदवाने की तमन्ना पूरी हो रही हो. मुझे चोदते चोदते राहुल मुझे कहने लगा बस कुछ ही देर की बात है फिर मेरा स्पर्म भी गिरने वाला है क्या मैं अपने स्पर्म को तुम्हारी फुद्दी में गिरा दू तो मैंने उसे कहा हां क्यों नहीं तुम अपने  लण्ड से निकला गरम गरम वीर्य  मेरी फुद्दी में ही गिरा दो मै तुम्हारे स्पर्म की गर्मी को महसूस करना चाहती हूँ. यह भी देखे >> तेल लगे लण्ड की फोटो काला मोटा लण्ड तेल में लत पथ तना हुआ लण्ड मस्त फोटो

  देवर के लण्ड का फव्वारा मेरी फुद्दी के अंदर चला हिंदी संभोग कहानी

फिर करीब 10 मिनट बाद उसने अपने मोटे लण्ड से निकले सफ़ेद सफ़ेद स्पर्म को मेरी फुद्दी के भीतर प्रवेश करवा दिया. जैसे ही उसका स्पर्म मेरी फुद्दी में गया तो मुझे उसके स्पर्म की गर्मी महसूस होने लगी. दोस्तों जब किसी लड़के का स्पर्म आप की फुद्दी या चूतड़ मै गिरता है न तो उसके स्पर्म की गर्मी का एक अलग ही आनंद है. मेरी फुद्दी से राहुल का गर्म स्पर्म टपक रहा था.

दोस्तों उसका तो स्पर्म निकल चूका था किन्तु मेरी फुद्दी चुदवाने की आग अभी भी शांत नहीं हुई थी तो मैंने उसके पेनिस को चूस कर दोबारा से खड़ा किया और राहुल को अपना मोटा लण्ड मेरी फुद्दी में घुसेड़ कर मेरी फुद्दी चुदाई करने के लिये दोबारा से उत्तेजित कर दिया. वह मेरी फुद्दी चुदाई करने के लिये पूरी तरीके से उत्तेजित हो चुका था उसकी सेक्स करने की उत्तेजना चरम सीमा पर पहुंच चुकी थी उसने मेरी फुद्दी के भीतर अपने पेनिस को दोबारा प्रवेश करवाया और मुझे काफी देर तक चोदा जिससे कि मैं पूरी तरीके से संतुष्ट हो चुकी थी. यहाँ भी देखे >> बेवा माँ रोती रही और में चोदता राहा सगी बेवा माँ की फुद्दी में मोटा लंड

इस खतरनाक फुद्दी चुदाई के बाद मै बहुत थक चुकी थी जिस कारण मुझे इतनी गहरी नींद आई की जब मेरी आंख खुली तो मैं बेंगलुरु पहुंच चुकी थी. बेंगलुरु पहुंचते ही मैं अपने काम के सिलसिले में चली गई किन्तु जैसे ही मैं फ्री हुई तो मैंने राहुल को फोन किया और उससे फुद्दी चुदवाने के लिए उसके फ्लैट में चली गई. जब मैं राहुल से मिलने के लिए उसके फ्लैट में गई तो वहां पर भी हम दोनों कुत्ते कमीनो ने जमकर सेक्स करा उसका पेलने का अंदाज मुझे बहुत पसंद आया अब हमें जब कभी भी अवसर मिलता है हम एक दुसरे से मिलते है और खतरनाक धक्का पेल चुदाई करते है।