XXX Vale – Hindi XXX Stories For Adults

18+ Sexually Explicit Contents

जबरदस्ती नासमझ छोटी बहिन की चुदाई करके सील तोड़ी हिन्दी संभोग कहानी

जबरदस्ती नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुदाई करके सील फाड़ी गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में : हेल्लो दोस्तों आज बहुत दिनों बाद में एक नई भाई बहिन की गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में लेकर आया हूँ और उम्मीद करता हूँ की हम भाई बहनों की ये गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में आप सभी को बहुत पसंद आयगी इस गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में में मै आप को बताऊंगा की कैसे मैंने अपनी सगी बहना के साथ जबरदस्ती करी और उसकी अनचुदी फुद्दी की सील फाड़ी. दोस्तों मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की शानदार चुदाई की फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में शुरू करने से पहले में आप सभी को मेरी फैमिली के बारे में बता देता हूँ. दोस्तों मेरी फैमिली में मेरे अम्मी पापा और मेरी एक छोटी बहिन है. मेरी छोटी बहिन का नाम बेबी है और वो दिखने में बहुत ही सुंदर है और उसका कलर गोरा है.

मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की बॉडी एक दम पोर्न स्टार जैसी है और उसका फिगर ३४-३०-३४ का होगा. यह वह वक्त चल रहा था जब मेरी छोटी बहिन बचपन की दहलीज लाँघ कर जवानी में कदम रख रही थी और उसकी अनचुदी फुद्दी को भी लौड़ा खाने की भूख लगने लगी थी. यहाँ भी देंखे >> दो सौतेले भाईयों ने मेरे साथ नाईट भर रेप किया Hindi Sex Stories एक दिन मैंने उसे न्यूड (नग्न) देख लिया और उसे न्यूड (नग्न) देख के मेरे दिल में मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुदाई करने की कसक जाग गई थी में कुछ भी कर के अपनी सगी नासमझ छोटी मासूम बहिन की अनचुदी फुद्दी की चुदाई करने के सपने देखने लगा था. चलिए आज आप को अपनी अनचुदी बहिन की शानदार चुदाई का यह किस्सा बताता हूँ. दोस्तों शुरू प्रारंभ में मेरे मन में कभी मेर छोटी बहिन के बारे में कोई बुरा ख्याल नहीं आया था.

जबरदस्ती नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुदाई करके सील फाड़ी गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में

नंगी फोटो स्नानघर वाली न्यूड (नग्न) फोटो न्यूड (नग्न) तस्वीरें न्यूड (नग्न) महिला की तस्वीर Nangee Photo Xxx Nude Indian Girls Pic (15)

फिर एक दिन जब घर पर हम बहिन भाई अकेले ही थे और अम्मी पापा बाजार गए हुए थे. तो में गलती से बिना नोंक करे एकदम से स्नानघर में घुस गया जैसे ही मैने स्नानघर का दरवाजा खोला तो मेरी आँखे खुली रह गयी स्नानघर में मेरी छोटी बहिन अपने सारे कपड़े खोल कर बिलकुल न्यूड (नग्न) पुंगी होकर नहा रही थी. यहाँ भी देंखे>> अगर आप चाहते हैं कि आपकी गर्लफ्रेंड भी बड़े स्तनोंं वाली हो, तो इसे ध्यान से पढ़ें मैं अपनी छोटी नासमझ सी बहिन को नंगी होकर नहाते हुए देख उलटे कदमो से वापस स्नानघर से बहार निकल गया.

मेरी गरम बहिन ने भी अब शर्म के मारे दरवाजे को अन्दर से बंद कर लिया. मेरा लौड़ा मेरी न्यूड (नग्न) बहिन के गदराई बदन को देखकर मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की अनचुदी फुद्दी की चुदाई करने के लिये तड़पने लगा था उस दिन तो मैंने मेरी छोटी बहिन के नाम की मुठ मार कर अपनी हवस शांत कर ली पर उस दिन के बाद से जब कभी भी मेरी छोटी बहिन मेरे सामने आती तो मुझे उस पर बहुत प्यार आता था में जब कभी भी अपनी बहिन को देखता मेरा मन मेरी छोटी बहन की चुदाई करने को करने लगता था. एक दिन मेरे घर पर कुछ दिनों के लिये मेरी बुआ रहने आई हुई थी और हमारा घर थोडा छोटा था तो अम्मी ने बेबी को कहा – कि तुम भाई साहब के रूम में सो जाओ तो वो नासमझ मेरे रूम में आकार लेट गयी उसे क्या पता था की उसका भाई उसके बदन का भूखा है और उसके साथ कुछ कांड कर सकता है.

  मौसी की 18 साल की जवान लडकी को चोदकर माँ बना दिया हिन्दी संभोग कहानी

मुझे नाईट में सोने से पहले गरमा गर्म दूध पीने की आदत है.मैने मेरी छोटी बहिन से कहा की मेरे लिए दूध गर्म कर के ला दो तो वो किचिन में दूध लेने चली गयी और उसके जाते ही मै अपने लौड़ी को हिला हिला कर उसके नाम की मुठ मारने लग गया और कुछ समय बाद मेरे लण्ड से मेरा वीर्य निकल कर फर्श पर गिर गया और एकदम उसी दौरान मेरी बहिन दूध लेकर कमरे में आ गई और उसका पैर फर्श पर पड़े चिकने और लसलसे स्पर्म के कारण फिसल गया और वो स्लिप होकर गिर पड़ी और गरमा गर्म दूध मेरी गदराई छोटी बहिन के शरीर पर गिर गया.

नाईट होने के कारण मैने किसी को भी जगाना बेहतर नहीं समझा. मैने जल्दी से अपनी गदराई नासमझ छोटी बहिन को उठाकर शयनकक्ष में लगे पलंग की तरफ ले गया और उसे पलंग पर बिठा दिया. फिर में जल्दी से बर्नोल ट्यूब ले आया और हिम्मत करके उसके पास गया और उसको कहा की तुम उलटी होकर लेट जाओ में तुम्हारी पीठ और कमर पर ट्यूब लगा देता हूँ जिस से तुम्हे बहुत जल्दी आराम मिल जायगा. मैने ट्यूब हाथ में ले ली और जैसे ही मैने उसके बदन को छुआ, मेरे शरीर में करंट दौड़ गया. मैने फर्स्ट टाइम किसी को स्पर्श करा था और वो भी अपनी सगी ….बहन की इतनी सॉफ्ट पीठ थी, मैं आपको बता नहीं सकता.

मेरी अनचुदी बहिन ने जीन्स और टॉप पहनी हुई थी और टॉप लूज़ होने के कारण, मैने उसके अन्दर अपना हाथ डाल दिया. पर मैं दवाई सही से लगा नहीं पा रहा था, तो मेरी अनचुदी बहिन ने कहा – भाई साहब टॉप थोडा सा ऊपर कर दो और लगा दो. दोस्तों आप ये कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है ।मैने उससे कहा – मेरा हाथ इससे ऊपर नहीं जा पा रहा है, तो मेरी अनचुदी बहिन ने मुझे अपना टॉप थोडा और ऊपर करने को बोला.

मैने मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की टॉप को ऊपर कर दिया और अब मुझे मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की पैडेड ब्रा की बेल्ट दिखने लगी थी. मैं तो पागल हुआ जा रहा था, उसे देखकर. मेरी नासमझ गदराई छोटी बहिन कहने लगी – भाई साहब लाइट बंद कर दो, मुझे अच्छा नहीं लग रहा है. तो मैने कहा – अंधेरे में सही से नहीं लग पायेगा. बहिन ने अपने ब्रेस्ट पर पैडेड ब्रा पहन रखी थी. पैडेड ब्रा बीच में होने की वजह से मेरा हाथ बार-बार फस रहा था तो मैने मेरी छोटी बहिन से कहा की तुम्हारे टॉप की वजह से में मालिश नहीं कर पा रहा हूँ यह बहुत तंग है.

मैने मेरी छोटी बहिन से कहा – ये टॉप उतार दू इससे आराम हो जायगा मेरी नासमझ गदराई छोटी बहिन कहने लगी – ठीक है और मैने पीछे से उसका टॉप उतार दिया. अब मेरी गदराई सगी बहना मेरे सामने केवल पिंक पैडेड ब्रा में थी. क्या गदराई माललग रही थी  मैं आपको शब्दों में बता नहीं सकता. किन्तु फिर भी मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की पैडेड ब्रा मेरे हाथ हाथ में फस रही थी. जिसके कारण, मैं ट्यूब मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की पीठ पर सही से लगा नहीं पा रहा था. मैने कहा – इसको कुछ समय के लिए खोल दू? मेरी नासमझ गदराई छोटी बहिन कहने लगी ठीक है और मैने मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की पैडेड ब्रा खोल दी और ट्यूब लगाने लगा.

चुदाई करके सील फाड़ी गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में 3″ class=”wp-image-180056″ width=”687″ height=”386″/>
जबरदस्ती नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुदाई करके सील फाड़ी गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में

कभी-कभी मेरा हाथ मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुचियो पर छु जाता, आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है. तो वो अजीब सी आवाज़ निकालती. मैने ट्यूब लगाने के बाद, वापस पैडेड ब्रा बंद की. मेरी नासमझ गदराई छोटी बहिन कहने लगी – भाई थोडा और नीचे भी लगा दो. मैंने कहा – कहा ँ. तो मेरी अनचुदी बहिन ने कहा – कमर के नीचे. मैने उसको कहा – तुमने तो जीन्स पहनी हुई है. मेरी नासमझ गदराई छोटी बहिन कहने लगी – इसको थोडा नीचे कर दो. फिर मैने उसको सीधा किया और मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की जीन्स का बटन खोल कर मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की जीन्स को नीचे करने लगा. जैसे ही मैने मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की जीन्स नीचे की, मैं तो पागल हो गया.

  सेक्स का चस्का पार्ट 2 - बहिन के झाटो के जंगल की कटाई छटाई Hindi Chudai Ki Kahani

मेरी अनचुदी बहिन ने जीन्स के नीचे पेंटी नहीं पहनी थी. मैं तो अपनी सगी नासमझ छोटी मासूम बहिन की बहिन की झांटो से भरी हुई फुद्दी देखकर उसकी चुदाई करने के लिये पागल हुए जा रहा था. मैने कहा – अब कहा ँ पर लगाना है? मेरी अनचुदी बहिन ने कहा – जहाँ भी आपका मन करे भाई साहब आप लगा दो. फिर मेरी अनचुदी बहिन ने कहा – भाई साहब गर्मी बहुत लग रही है और ये कहकर मेरी अनचुदी बहिन ने अपनी पैडेड ब्रा भी उतार दी. अब वो मेरे सामने बिलकुल न्यूड (नग्न) खड़ी थी और मैं उसको देखे ही जा रहा था. मेरी नासमझ गदराई छोटी बहिन कहने लगी – ऐसे क्या देख रहे हो भाई साहब आब आप की छोटी बहिन जवान हो चुकी है आज आप अपनी बहिन का बदन भोग लो. फिर मैं उसके पास गया और उसको अपनी बाहों में भर लिया और किस करने लगा. वो भी कहराने लगी. मैने कहा – तुम कितनी हॉट हो. मेरी नासमझ गदराई छोटी बहिन कहने लगी – अगर हॉट होती, तो आप इतनी ज्यादा देर ना लगाते.मुझे ही सब कुछ उतारना पड़ा.

चुदाई करके सील फाड़ी गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में 1″ class=”wp-image-180055″ width=”586″ height=”1040″/>
जबरदस्ती नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुदाई करके सील फाड़ी गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में

मैंने मेरी भोली भली बहिन से कहा – में मन ही मन तुमसे प्यार करने लगा हूँ और अब मैं तुम्हारी अनचुदी फुद्दी की चुदाई करना कहता हूँ . मेरी नासमझ गदराई छोटी बहिन कहने लगी पर भाई साहब भाई बहिन के बिच ये सब बहुत गलत है ये किसी को पता चल गया तो हमारे बारे में क्या सोचेंगे तो मैने कहा – में किसी को भी इस बारे में पता नहीं लगने दूंगा. मेरे तुम्हारे साथ अवैध सेक्स संबंध है ये राज हमेशा राज रहेगा. फिर उसने शरमाते हुए मुझे हाँ कर दी और उसका इशार पते ही में उसके गदराई बदन पर टूट पड़ा.

मैं पागलो की तरह मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुचियो को दबाने और पीने लगा. वो भी मस्त हो गयी और खूब मोअनींग करने लगी.ये चुदाई आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।फिर मैने भी अपने कपड़े उतार दिए और मैने मेरा 9 इंच लम्बा और 5 इंच मोटा लण्ड उससे चूसने को कहा . वो मना करने लगी. फिर मेरे फ़ोर्स करने पर मान गयी और मेरी अनचुदी बहिन ने मेरी लुल्ली को मुह में भरकर खूब मज़े से चूसा. फिर मैं भी ६९ पोजीशन में हो गया और मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की फुद्दी में मुह लगा दिया. मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की फुद्दी मेरे पूरे जीवन में आज की तारीख तक एक दम साबुत सील थी और आज में उसकी फुद्दी की झिल्लीतोड़ने वाला था हम दोनों भी बहुत उत्साहित हो रहे थे. मेरी बहिन की अनचुदी फुद्दी की प्रसनबु मुझे और जायदा मदहोश करती जा रही थी.हम दोनों कुत्ते कमीनो ने एक दुसरे का मुह में झडवा लिया.

फिर मेरी नासमझ नासमझ बहिन मेरा फौलादी लण्ड खड़ा करने लगी ताकि में उसकी फुद्दी की बहुत अच्छे से चुदाई कर सकू. मेरा फौलादी लण्ड खड़ा होते ही मैने मेरी बहिन को पलंग पर लिटा दिया और उसे लिटाकर उस साली रंडी छिनाल की चूतड़ के नीचे तकिया लगाया और मेरा 9 इंच लम्बा और 5 इंच मोटा लौड़ा मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की अनचुदी फुद्दी पर रगड़ने लगा. फिर धीरे से टोपा मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की अनचुदी फुद्दी के मुह पर रखकर एक जोर काशॉट दिया.

  पेलने गया था वेश्या पर चोद आया मेरी सगी बहिना को हिन्दी संभोग कहानी

जोर काशॉट देते ही मेरा आधा लौड़ा मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की अनचुदी फुद्दी की सील तोड़ते हुए उसकी फुद्दी के छेद के अन्दर चला गया और उसकी फुद्दी से ब्लड टपकने लगा. वो दर्द के कारण रोने लगी और फिर मैने उसके होठो पर किस करना चालू कर दिया. कुछ समय बाद, जब उसका दर्द कम हुआ तो वो अपनी लेट्रिंग से भरी चूतड़ उठाने लगी, तो मैने दूसराशॉट मारा और अपना पूरा लण्ड मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की फुद्दी में उतार दिया और फिर उसको पेलने लगा.

चुदाई करके सील फाड़ी गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में 2″ class=”wp-image-180057″ width=”672″ height=”450″/>
जबरदस्ती नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुदाई करके सील फाड़ी गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में

करीब बीस मिनट पेलने के बाद इसके बाद मैंने इंग्लिश स्टाइल में चोदना चालू किया. मै मेरी नासमझ छोटी बहिन को खूब जोर जोर के झटके दे देकर चोदे जा रहा था और मेरी नासमझ बहिन भी बड़े मज़े लेकर आज अपने सगे भाई के साथ अपने जीवन की पहली खतरनाक और धमाकेदार चुदाई का आनंद जो ले रही थी. मेरी छोटी बहिन मुझसे अपनी अनचुदी फुद्दी चुदवाते चुदवाते बोल रही थी की भाई साहब आज से में आप की बहिन नहीं हूँ आज से में आप की गर्लफ्रेंड हूँ आज आप मेरी फुद्दी फाड़कर मुझे अपनी रांड बना बना लो आज आप मेरी इतनी बुरी तरह चुदाई करो की में आज से आप के लौड़े के अलावा किसी और लड़के से चुदवाने के बारे में कभी भी नहीं सोचु आज आप अपनी इस नासमझ छोटी बहिन को ठोक चोदकर चुदाई का वास्तविक सुख दे दो जिसकी में हक़दार हूँ आह…… आह…..उई माँ आह……….आह…. औच…. आह….. अह….. और चोदो भाई साहब…. आह …. आह और जोर से भाई साहब… उमह …… आह… आह. … और वो अहहः अहहहः करने लगी.

फिर करीब एक घंटे की चुदाई के बाद में मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की फुद्दी में झड गया मेरे पलंग की पूरी की पूरी बेडशीट मेरी नासमझ छोटी मासूम बहिन की फुद्दी से निकले ब्लड से संद चुकी थी उस दिन पूरी नाईट हम दोनों भाई बहनों ने केवल चुदाई का आनंद लिया था. दोस्तों उसके बाद से तो हम जब कभी भी अवसर मिलाता चुदाई करने लग जाते थे एक दिन मुझे अपनी नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुदाई करते हुए मेरी अम्मी ने पकड़ लिया और उस दिन मेरी अम्मी ने मुझे ब्लैकमेल करा की बेटा आज तुम्हे मुझे भी चोदना पड़ेगा नहीं तो तुम्हारे पापा को सब बता दूंगी की तुम्हारे अपनी ही सगी बहना के साथ अवैध सेक्स संबंध है.

दोस्तों उस दिन मुझे पता चला की मेरा भोली भली दिखने वाली माँ एक नम्बर की रांड है और वो भी मेरे लण्ड से चुदवाना चाहती थी फिर उस दिन मुझे मेरी अम्मी की भी चुदाई करनी पड़ी और उस दिन के बाद से मेरे मेरी अम्मी के साथ भी अवैध सेक्स संबंध बनने लगे खैर वो वाली आगे की गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में अगले भाग में दोस्तों हम भाई बहनों की चुदाई की यह गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में “भाई बहिन की चुदाई की गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में – जबरदस्ती नासमझ छोटी मासूम बहिन की चुदाई करके सील फाड़ी गन्दी हिन्दी 18+ XXX फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में” आप सभी को कैसी लगी ईमेल कर के ज़रूर बताना.