XXX Vale – Hindi XXX Stories For Adults

18+ Sexually Explicit Contents

वेश्या रांड की तरह जबरदस्त चोदा ताईजी को नॉनवेज सेक्स स्टोरी

दोस्तों में आज आप सभी को मेरी ताईजी के रेप करने की अपनी एक सच्ची...

दोस्तों में आज आप सभी को मेरी ताईजी के रेप करने की अपनी एक सच्ची घटना सुनाने आया हूँ और में उम्मीद करता हूँ मेरी ताईजी की चुदाई की यह अन्तर्वासना इंडियन देसी नॉनवेज सेक्स स्टोरीआप सभी को ज़रूर पसंद आएगी. दोस्तों जब मैंने मेरी ताईजी की का रेप करा था तब मेरी रांड ताईजी की 37 साल की थी और में 19 साल में चल रहा था. You May Like This >> 18 Year Old Nephew Fucking Mature Aunty Indian Porn

दोस्तों में अपने चाचा-ताईजी की और उनकी बेटी के साथ रहा करता था उनकी बेटी ने अभी अपने 15 साल पूरे किए थे. दोस्तों मेरी ताईजी की जिसका मैंने रेप करा था उनका नाम काजल था, उनका बदन बहुत ही गदराई और नशीली है उसके मोटे मोटे ब्रेस्ट का आकार 38-40  है. उसकी वो पतली कमर और बहुत ही प्यारे मोटे कुल्हे जिसका आकार 42 इंच है और जिसको देखकर किसी का भी लण्ड तन जाए।

में हमेशा इस फिराक में रहता था कि मुझे एक दफे अपनी ताईजी पूरी न्यूड (नग्न) देखने को मिल जाए. जब मेरी गदराई ताईजी की कपड़े धोती थी तो उनके मोटे मोटे चूचे जोर जोर से हिला करते थे और वो इतना मस्त द्रश्य होता है कि उसको देखकर हमेशा मेरी तमन्ना करती है कि वहीं पर में उस साली के ब्लाउज को खोल कर उसकी ब्रा को फाड़ डालू और उनके ब्रेस्ट को जोर जोर से दबाने लग जाऊ.

सेक्स वर्कर की तरह जबरदस्त चोदा ताईजी को हिंदी फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में

बिचारी भौजाई फस गयी देवर के जाल में Devar Bhabhi Romance In Bedroom Indian XXX Pic (19)
सेक्स वर्कर की तरह जबरदस्त चोदा ताईजी को हिंदी फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में

में गदराई ताईजी को केवल देखकर ही मस्त हो जाता था, मेरे पूरे बदन में एक जोश भर जाता और फिर में स्नानघर में जाकर उनकी उतरी हुई पैडेड ब्रा और चड्डी से उनकी मस्त फुद्दी और ब्रेस्ट के पसीने की महक को बहुत मज़े लेकर सूंघता हुआ मुठ भी मारता था. में उनकी पैडेड ब्रा और चड्डी को चाट चाटकर अपने पेनिस को उनके नाम की मुठ मारकर ठंडा किया करता था, मैंने ऐसा बहुत बार किया और ऐसा करने से मुझे बहुत मज़ा भी आने लगा था।

दोस्तों ताईजी के रेप की यह घटना तब की है जब एक नाईट को मैंने अपनी ताऊजी को सपने में मेरा फौलादी लण्ड चूसते हुए देखा ऐसा गन्दा सपना देखते ही मेरा फौलादी लण्ड एकदम से तनकर खड़ा हो गया, जिसकी वजह से मेरी नींद खुल गई और तब मेरी तमन्ना हुई कि में उसी वक्त रांड काजल ताईजी के नाम की मुठ मारूं. अब मन ही मन में यह बात सोचकर चुपचाप स्नानघर की तरफ जाने लगा.

दोस्तों जब में ताईजी के नाम की मुठ मारने जा रहा था तब मुझे  ताईजी के कमरे से हल्की सी कुछ आवाज़ सुनाई दी, फिर में ताईजी के दरवाजे पर अपने कान को लगाकर सुनने लगा तो मुझे पता चला के अन्दर मेरी ताऊजी की चुदाई चल रही है मेरे ताऊजी मेरी ताऊजी को चोद रहे थे और मेरी ताईजी भी बड़े मजे से आंहे भर भर के ताऊजी का लण्ड अपनी फुद्दी में ले रही थी वो चुदवाते हुए मेरे ताऊजी को गंदी गंदी गालियाँ दे रही थी. You May Like This >> Aishwarya Rai Bachchan Fucking Photos XXX Porn Pic Sex Pictures

दोस्तों उनकी आवाजे सुन कर मुझसे रहा नहीं गया, मैंने मन में सोचा कि मेरे पास बस यही एक अच्छा अवसर है अपनी ताईजी को नंगी देखने का, आज ही में अपनी रांड काजल ताईजी को पूरा नंगा और चुदवाते हुए पहली बार देख सकता हूँ. फिर में उसी वक्त यह बात सोचकर सीधा बाल्कनी की खिड़की की तरफ चला गया, क्योंकि मुझे पता था कि वहां की खिड़की पर कभी कोई परदा नहीं होता और वहाँ से मुझे वो सब साफ साफ दिखाई देगा।

अब में चुपचाप भीतर चल रही चुदाई का द्रश्य देखकर मुठ मर रहा था जिस से मुझे मन की शांति मिल गयी और मेरी सेक्स वासना भी कुछ हद तक शांत हो गयी. दोस्तों उस वक्त मेरी ताईजी चुदवाने के लिये अपने दोनों टांगों को पूरा फैलाकर सीधी लेटी हुई थी और मेरे ताऊजी उसकी फुद्दी में लण्ड दल कर जोर जोर के झटके लगा रहे थे. मेरे ताऊजी अपनी तरफ से पूरी ताकत से शोर्ट लगा रहा था और वो कह रहा था कि साली रांड में तुझे हमेशा कितना चोदता हूँ, किन्तु तेरी इस फुद्दी की प्यास कभी खत्म ही नहीं होती है.

दोस्तों अपनी ताईजी की वो मस्त चुदाई देख कर मेरी बहुत तमन्ना हुई कि में उसी वक्त कमरे के भीतर चला जाऊं और और ताऊजी को हटा कर खुद उसी वक्त अपनी ताईजी को पकड़कर बहुत जमकर फुद्दी चुदाई के मज़े ले लूँ. ताईजी की वो मस्त चुदाई को देखने के बाद मेरा फौलादी लण्ड अब फड़फड़ा रहा था और उस वक्त मुझे भी बस यही लग रहा था की मेरे ताऊजी कितने किस्मत वाले है जो उन्हें ऐसी रांड लुगाई मिली है.

फिर उसके बाद में सीधा स्नानघर में चला गया और ताईजी की चड्डी और ब्रा को अपने कमरे में लाकर सूंघते और चाटते हुए मुठ मारने लगा. अब मैंने अपने मन में यह विचार किया कि एक दफे में रांड काजल ताईजी के साथ प्रयास तो ज़रूर करके देखूं क्या पता? वो उनकी प्यासी फुद्दी को अपने आप ही मुझे उसकी चुदाई करने का अवसर दे दे।

फिर मुठ मारते हुए में रांड काजल ताईजी की ब्रा को अपने कोमल होंठो से लगाकर ना जाने कब सो गया. फिर अगली मोर्निंग रांड काजल ताईजी की ने मुझे झनझोड़कर जगाया और वो मुझसे कहने लगी कि सुनील तू आज कॉलेज क्यों नहीं गया? उठकर देख मोर्निंग के दस बज रहे है और तू घोड़े बेचकर सो रहा है, चल अब जल्दी से उठ जा तेरे ताऊजी को तो आज मोर्निंग ही महीने भर के लिए किसी काम से मुम्बई जाना था और इस कारण से वो तो कभी के चले भी गये और सोनिया भी अपने विद्यालय ट्रिप के साथ जयपुर चली गयी है. अब में बहुत थक रही हूँ तू अब नहा धोकर नाश्ता कर ले उसके बाद में भी थोड़ा सा आराम करूंगी।

इसके बाद मैंने जल्दी से उठकर सबसे पहले ताईजी की वो चड्डी और पैडेड ब्रा ढूढ़ी जिसको में अपने साथ में लेकर सोया था, किन्तु मुझे वो कहीं भी नहीं मिली. दोस्तों मेरी तो अब डर के मारे चूतड़ फटने लगी में मन ही मन में सोचने लगा कि अगर ताईजी की को पता चल गया तो ताईजी की आज मेरी बहुत पिटाई करेगी. You May Like This >> 5 Men Kidnapped Japanese Girl Forced To Sex Gang Rape Video

फिर में चुपचाप अपने सारे काम पूरे करके टीवी देखने बैठ गया और उधर ताईजी की मुझे नाश्ता देकर उनके कमरे के भीतर जाकर लेट गयी. फिर कुछ समय के बाद उन्होंने मुझे आवाज़ देकर अपने कमरे में बुलाया और वो मुझसे कहने लगी कि सुनील तू ज़रा मेरा बदन दबा दे. दोस्तों उस वक्त रांड काजल ताईजी की केवल ब्लाउज और पेटीकोट में लेटी हुई थी और वो मुझसे यह बात कहने के बाद पेट के बल उल्टी होकर लेट गयी।

  गरीब लड़की पैसो के खातिर कॉल गर्ल बन चुदवाने लगी Hindi Chudai Ki Kahani

अब मैंने मेरी कंचो जैसी मोटी मोटी आँखों से देखा कि ताईजी की ने अपने ब्लाउज का केवल एक हुक छोड़कर सारे हुक खोले हुए थे और उन्होंने अपना पेटिकोट भी कुछ ज्यादा ही नीचे करके बांधा हुआ था जिसकी वजह से उनके दोनों कूल्हों के बीच की दरार भी मुझे साफ नज़र आ रही थी. अब मेरे सामने वो कुल्हे थे जिसको केवल देखकर ही मेरा फौलादी लण्ड तुरंत तनकर खड़ा हो जाता था और ताईजी की तो अपना पूरा गोरा गदराई बदन जानबूझ कर मुझे दिखाते हुए मुझसे मसलने को कह रही थी।

इसके बाद मैंने बिना देर किए चुपचाप ताईजी के पास बैठकर आहिस्ता आहिस्ता उनका बदन दबाने लगा, उनके चिकने बदन को छुते ही मेरा फौलादी लण्ड तनकर खड़ा हो गया और में डरने लगा कि कहीं रांड काजल ताईजी की को पता नहीं चल जाए. फिर जब पेटिकोट के ऊपर से रांड काजल ताईजी के कुल्हे दबे तो मेरा फौलादी लण्ड एकदम मस्त हो गया, उस पेटिकोट के ऊपर से ही रांड काजल ताईजी के कुल्हे दबाकर मुझे पता चल गया था कि उनकी चूतड़ वाकई में बहुत मोटी और तगड़ी थी।

फिर कुछ समय बाद ताईजी की कहने लगी अरे सुनील तू ऐसे क्या देखता है? जरा थोड़ा तेल लगाकर ज़ोर से जरा अच्छी तरह से मालिश कर दे जिसकी वजह से मुझे थोड़ा सा आराम तो मिलेगा. अब मैंने गदराई ताईजी को कहा कि ताईजी की तेल लगाने से आपका ब्लाउज खराब हो जाएगा इस कारण से पहले आप अपना ब्लाउज भी खोल दो. फिर ताईजी की बोलने लगी कि सुनील में तो लेटी हूँ, तू मेरे पीछे से ब्लाउज के हुक को खोल दे और साइड में कर दे. दोस्तों में जिस ताईजी की को नंगा देखने को अब तक तरस रहा था और जिसकी ब्रा को में चोरीछिपे अब तक चाट रहा था, उसके ब्लाउज के हुक मैंने बड़े ही धीरे से खोले और अब ताईजी की न्यूड (नग्न) पीठ पर केवल काली पैडेड ब्रा की डोरी मुझे दिखाई दे रही थी।

अब मैंने थोड़ा सा तेल अपने हाथों में लेकर ताईजी की पीठ पर मसलना प्रारम्भ करा, किन्तु बार बार ताईजी की पैडेड ब्रा की डोरी बीच में आकर रुकावट पैदा कर रही थी और इस कारण से मैंने कुछ देर बाद रांड काजल ताईजी की को कहा कि ताईजी की आपकी पूरी पैडेड ब्रा तेल में खराब हो रही है. अब मुझे इसकी वजह से मालिश करने में भी परेशानी हो रही है, आप मुझे बताए में अब क्या करूं? तब ताईजी की बोलने लगी कि तू मेरी पैडेड ब्रा की डोरी के हुक को भी खोल दे।

दोस्तों उस वक्त ताईजी के मुँह से यह बात सुनकर मेरा फौलादी लण्ड तो पेंट के भीतर से झटके देने लगा था, मैंने भी बड़े ही प्यार और मोहब्बत से पैडेड ब्रा के हुक को भी खोल दिया और पहली बार इतने पास से में ताईजी की मखमली गोरी सुंदर पीठ को देख रहा था. अब में उस न्यूड (नग्न) पीठ पर आहिस्ता आहिस्ता तेल से मालिश करने लगा और कुछ समय बाद ताईजी की मुझसे बोलने लगी कि सुनील जरा तू मेरे नीचे भी मालिश कर दे।

अब मैंने कहा कि ताईजी की आप बताओ में कहा ँ की मालिश करूँ? उसी वक्त ताईजी की बिना किसी शरम के मुझसे कहने लगी कि मेरे कूल्हों की और किसकी. अब मैंने भी मन में कुछ बात सोचकर अपने आप से कहा कि यही अवसर अच्छा है और मैंने उस से कहा, किन्तु उसके लिए तो आपका पेटीकोट भी उतारना पड़ेगा।

अब ताईजी की मुझसे कहने लगी कि जाकर अच्छे से पहले दरवाजा बंद कर दे और फिर में जल्दी से जाकर दरवाजा बंद करके आ गया और तब मैंने मेरी कंचो जैसी मोटी मोटी आँखों से देखा कि ताईजी की पहले से ही अपना पेटिकोट उतारकर लाल कलर की चड्डी और काली ब्रा को अपने हाथों से दबाए पेट के बल उल्टी बिस्तर पर लेटी हुई थी. फिर में तेल लेकर आहिस्ता आहिस्ता ताईजी के मस्त टांगों की और उनके मस्ताने मोटे कूल्हों की मालिश करने लगा था।

दोस्तों में कभी भी सपने में भी नहीं सोच सकता था कि वो ताईजी की जिसका नाम लेकर में नाईट भर मुठ मारता था, एक दिन पैडेड ब्रा और अंडरवियर में मेरे सामने लेटकर मेरे हाथ से अपने बदन की मालिश मुझसे करवाएगी. फिर मालिश करते हुए जब में रांड काजल ताईजी की जाँघो पर पहुंचा, मेरे हाथ बार बार चड्डी के ऊपर से ताईजी की कसी हुई फुद्दी की पंखुड़ियों से छु रहे थे, जो मुझे एक अजीब तरह का आनंद दे रहे थे कि मुझे पता नहीं क्या सूझा? मैंने ताईजी की अंडरवियर में एक तरफ से अपनी एक उंगली को आहिस्ता आहिस्ता भीतर डालकर में अब ताईजी की फुद्दी पर उंगली फेरने लगा. फिर उसी वक्त मैंने महसूस किया कि ताईजी की फुद्दी एकदम मखमली बिना बाल की थी और उसकी मुलायमता से मुझे पता लग रहा था कि ताईजी की शेव नहीं बल्कि हेर रिमूवर से अपनी फुद्दी के बाल साफ करती है।

फिर एकदम ताईजी की उठकर सीधी हुई और अपनी ब्रा को छोड़कर उन्होंने एक थप्पड़ मेरे गाल पर मार दिया और वो मुझसे बोलने लगी कि मादरचोद तुझे शरम नहीं आती मेरी फुद्दी में उंगली डालते हुए? जब ताईजी की उठी उस वक्त उन्हें थोड़ा सा भी अपनी पैडेड ब्रा का ध्यान नहीं रहा. दोस्तों पैडेड ब्रा के हुक पहले से ही खुले होने की वजह से ताईजी के वो मस्त गोरे गोरे ब्रेस्ट जिस पर भूरे कलर के बड़े आकार के निप्पल भी थे, मेरे सामने वो अब पूरी तरह से न्यूड (नग्न) हो गई।

फिर में उस थप्पड़ की परवाह किए बिना ताईजी के मस्त ब्रेस्ट को देखता रहा और ताईजी की ने भी उन्हे मुझसे छुपाने की कोई भी प्रयास नहीं कि बल्कि एक थप्पड़ मारते हुए वो मुझसे कहने लगी मादरचोद बहिन के लण्ड तू मुझे क्या पागल फुद्दीिया समझता है? कल नाईट को मेरी चड्डी और पैडेड ब्रा तेरे बिस्तर पर कैसे पहुँच गयी? तू मुझे अब बिल्कुल सच सच बता मादरचोद मेरी चड्डी और पैडेड ब्रा के साथ तू नाईट को क्या कर रहा था..?

अब मैंने डरते हुआ गदराई ताईजी को बताया कि कल नाईट को जब आपके पैर उठाकर ताऊजी अपने लण्ड से आपकी फुद्दी चोद रहे थे और आप किसी रांड की तरह मजे से चुदवा रही थी , उस वक्त मैंने आपको देखा था और मुझे आप उस वक्त इतनी सुंदर लग रही थी कि में स्नानघर में जाकर ना जाने कब आपकी चड्डी-ब्रा को अपने साथ लेकर बिस्तर पर आ गया और में आपकी चड्डी और ब्रा को सूंघते हुए और चाटते हुए अपने हाथ से मुठ मारने लगा।

अब इस बात पर ताईजी की ने मुझे एक थप्पड़ दोबारा मारा और वो कहने लगी तू अपने मादरचोद ताऊजी की लुल्ली को लण्ड बोलता है और बहनचोद मुझे तो तूने चुदते हुए पूरा नंगा देख लिया, अब तू अपने कपड़े भी उतारकर मेरे सामने पूरा नंगा होकर मुझे दिखा में देखूं तो सही आख़िर तेरी लुल्ली है या लंड? दोस्तों उस वक्त ताईजी के ब्रेस्ट को देखकर मेरा फौलादी लण्ड जोश में आकर पूरा तना हुआ था।

  कामुक भौजाई को न्यूड करके वेश्या रांड की तरह चोदा हिन्दी संभोग कहानी

अब ताईजी की ने उसी वक्त आगे बढ़कर अपने लिए एक सिगरेट जलाई और उन्होंने मेरा लोअर खोल दिया और मेरा 6 इंच लंबा और 2 इंच मोटा लण्ड रांड काजल ताईजी की आँखों के सामने झूलने लगा. फिर उसको देखकर ताईजी की आँखें फेल गयी और वो मुझसे बस इतना ही कहने लगी मादरचोद यह आदमी का लण्ड है या घोड़े का? अभी तक इसको तूने कहा ँ छुपाकर रखा था पहले क्यों नहीं दिखाया? तेरे इस पेनिस को देखकर तो कोई भी महिला न्यूड (नग्न) होकर मस्ती में आकर अपनी फुद्दी को उठा उठाकर चुदाई करवाना चाहेगी. फिर यह सब बोलते हुए मेरी लुल्ली को ताईजी की ने अपने हाथ में ले लिया और बड़े प्यार और मोहब्बत से वो अपना हाथ आगे पीछे करते हुए देखने लगी।

दोस्तों पहली बार जब कोई महिला आपका लण्ड पकड़ती है और जो मस्ती बदन में चढ़ती है वो में आपको बता नहीं सकता. फिर मेरी जिंदगी में वो पहली महिला का स्पर्श था जो मेरी लुल्ली को मिल रहा था और वो भी उस महिला का जिसको याद कर करके में कितनी बार मुठ मार चुका था, इससे पहले कि में कुछ बोल पाता मेरे लण्ड से एक पिचकारी निकली और ताईजी के कोमल होंठों और नंगे ब्रेस्ट पर जाकर पसर गई. फिर रांड काजल ताईजी की अब बड़े प्यार और मोहब्बत से कहने लगी बहनचोद तू तो एकदम फुद्दीिया निकला में तो समझ रही थी कि मेरी पैडेड ब्रा खोलकर और मुझे अंडरवियर में देखकर शायद तू मेरे साथ ज़बरदस्ती करके मेरी चुदाई करेगा, किन्तु मुझे तू अब मुझे माफ कर दे।

अब तूने मुझे अपनी बाहों में लेकर चोदा नहीं तो मैंने गुस्से में तेरी बिना मतलब ही पिटाई कर दी, किन्तु में क्या करूँ? इतने साल हो गये है मेरी फुद्दी को ठंडा हुए. अब रोज अपनी फुद्दी में वाइब्रटर डालकर में अपने आप को ठंडा करती हूँ, किन्तु एक दफे वास्तविक मर्द से चुदवाने की तमन्ना आज भी मेरे मन में ही रहा गई. फिर आज में मोर्निंग तेरे कमरे में गयी और अपनी चड्डी और पैडेड ब्रा से तेरा मुँह ढका हुआ मैंने मेरी कंचो जैसी मोटी मोटी आँखों से देखा तभी में तुरंत समझ गयी कि तू मेरे सपने देखकर मुठ मारता है और इस बहाने से मैंने आज तुझे अपनी मालिश करने के लिए यहाँ पर बुलाया था।

फिर तेरा घोड़े जैसा लण्ड देखकर में तो पागल हो गयी और ऐसे लण्ड के तो में केवल सपने ही देखती थी और तू भी अब फुद्दी लेने के लिए तैयार है, चल आज से वो सपने देखना बंद कर और बता अपनी ताईजी की फुद्दी चोदेगा? दोस्तों अपनी ताईजी के मुहं से वो बात सुनकर मेरे तो जैसे मन की मुराद पूरी हो गयी थी. फिर में पहले तो हक्का बक्का होकर खड़ा रहा और कुछ देर के बाद मैंने कहा कि ताईजी की जब से मेरा फौलादी लण्ड खड़ा होना शुरू हुआ है, तब से मैंने केवल आपको याद करके मुठ मारी है।

फिर में हमेशा ही आपको सपने में बिना कपड़ो के देखा करता था और आपके मोटे कुल्हे और ब्रेस्ट को सोचा करता था और मैंने आपके विचारों के साथ मुठ तो बहुत मारी है, किन्तु मुझे चोदना नहीं आता. अब तुम मुझे बताओगी तो में बहुत प्यार और मोहब्बत से मन लगाकर तुम्हारी चुदाई करूंगा. फिर ताईजी की बोलने लगी कि सुनील तेरा यह लण्ड देखने के बाद से ही में तो तेरी हो चुकी हूँ और रही बात चुदाई तो में तुझे ज़रूर सीखा दूँगी, किन्तु तुझे मेरी हर बात माननी होगी और अगर तूने मुझे मस्त कर दिया।

फिर उसके बाद में तुझे जो तू इनाम माँगेगा वो में तुझे दूँगी और ध्यान रहे यह बात किसी को पता नहीं चलनी चाहिए. दोस्तों अब हम दोनों के बीच कोई शरम या परदा नहीं रहा गया था. फिर ताईजी की ने मुझसे कहा कि आज से तू और में जब कभी भी अकेले होंगे तू मुझे केवल रांड काजल बुलाना और अब मुझे अपनी बाहों में भरकर मेरे कोमल होंठो को चूसते हुए मेरे कुल्हे मसल. इसके बाद मैंने भी इतने दिनों तक मुठ मारने के बाद ताईजी की का नंगा बदन अपनी बाहों में पकड़कर उठा लिया और रांड काजल को नंगा अपनी बाहों में भरकर उसके नरम कोमल होंठो को चूसने लगा. दोस्तों में बता नहीं सकता कि में उस वक्त किस जन्नत में था और फिर में अपने हाथों को पीछे ले जाकर उसकी अंडरवियर में डालकर उन मतवाले कूल्हों को दबाने लगा था. You May Like This >> ताऊजी अपनी बेटी की चुदाई करने लगे ताईजी की मौत के बाद Free XXX Hindi Nonveg Sex Story For Adults 18+ Hindi Chudai Kahani

फिर जब में पेटीकोट के ऊपर से कूल्हों को दबा रहा था मुझे उसी वक्त पता चल गया था कि रांड काजल के कुल्हे बहुत ही तगड़े और मस्त है. फिर जब मैंने उसके नंगे कुल्हे पकड़े तो मेरे हाथों में कुछ ज्यादा ही जान आ गयी और में गदराई ताईजी को कस कसकर मसलने लगा और रांड काजल ने भी मुझे अपनी बाहों में कसकर पकड़ रखा था, जिसकी वजह से उसके वो मुलायम ब्रेस्ट मेरी छाती से चिपक रहे थे और अब मुझे उसकी वजह से गुदगुदी हो रही थी. फिर कुछ समय एक दूसरे को चूसने के बाद रांड काजल मुझसे अलग हुई और अपनी अलमारी खोलकर वो एक विस्की की बोतल निकालकर मुझसे कहने लगी जब तक सोनिया वापस नहीं आती तेरी चुदाई की क्लास चालू है और अब तू पूरे हफ्ते भर मेरी क्लास में रहेगा।

फिर इतना कहकर रांड काजल ने दो गिलास में दारू डाली और दो सिगरेट भी जाल ली और एक मुझे देते हुए कहा जो में बताऊं वैसे ही करना. फिर उसके बाद रांड काजल एक हाथ में विस्की का गिलास और एक हाथ में सिगरेट पकड़कर मेरे सामने आई और वो मुझसे कहने लगी कि बहिन के लण्ड मेरा पेट चूमते हुए मेरी चड्डी को उतार दे. फिर पीछे से मेरी टट्टी से भरी चूतड़ के छेद में उंगली डालकर धीरे से अपने मुँह को मेरे पेट से चूमते हुए मेरी फुद्दी के ऊपर लाकर मेरी फुद्दी को केवल ऊपर से ही चूस, में तुझसे नाचते हुए अपनी फुद्दी चुसवाउंगी और फिर बाद में जब तू अपनी ड्रिंक और सिगरेट खत्म कर लेगा।

फिर तुझे में बताउंगी कि औरते अपनी फुद्दी का पानी मर्दो को कैसे पिलाती है? दोस्तों में तो उस वक्त कुछ बोलने की हालत में थोड़ा सा भी नहीं था. अब में तो बार बार यह बात सोच रहा था कि में कोई सपना तो नहीं देख रहा हूँ जिस औरत को नंगा देखना और चोदना मेरी ज़िंदगी का सबसे बड़ा मकसद था, वो ही महिला आज मेरी बाहों में न्यूड (नग्न) मुझसे चुदवाने के लिए मचल रही है. अब में रांड काजल के बताए तरीके से उसको अपनी बाहों में भरकर चूमने और उसकी चड्डी को उतारने लगा था।

  ससुर और बहु की गरम सुहाग रात नॉनवेज सेक्स स्टोरी

अब रांड काजल अपने कुल्हे हिला हिलाकर अपनी ड्रिंक और सिगरेट को पी रही थी और जब मेरे कोमल होंठ रांड काजल की फुद्दी के उभार पर छुए, रांड काजल ने ज़ोर से मेरा सर पकड़ा और फुद्दी के उभार पर दबा दिया. अब वो बड़ी मीठी मीठी सिसकियाँ भरने लगी और कहने लगी सुनील तुझे में जिंदगी का इतना सुख दूँगी कि जब तू अपनी जोरू की चुदाई करेगा, तब तू हमेशा मेरी ही फुद्दी को याद करेगा. फिर में भी मन लगाकर रांड काजल की फुद्दी की दरार और उभार पर अपनी जबान को फेरने लगा था, कुछ समय के बाद एकदम से रांड काजल के कूल्हों में एक कंपन सी होने लगी थी और मेरे सर को ज़ोर से दबाते हुए उसने अपनी फुद्दी का पानी बाहर कर दिया।

फिर उसके बाद वो मेरे पास में बैठ गयी और बोलने लगी सुनील आज पहली बार ऐसा हुआ है कि में अपनी फुद्दी को किसी से चुसवाते हुए झड़ी हूँ. यारों मैंने मेरी कंचो जैसी मोटी मोटी आँखों से देखा कि रांड काजल की आँखे दारू और जोश की वजह से बिल्कुल नशीली हो चुकी थी, उसने मेरा मजबूत लौड़ा पकड़ लिया और उसको वो सहलाते हुए कहने लगी अरे सुनील तूने अपने लण्ड का यह क्या हाल कर रखा है? यह तो तनकर एकदम फटने को हो रहा है, मेरे प्यारे सुनील पेनिस को इतना नहीं अकड़ने देते की लण्ड ही फट जाए और वैसे भी आज से यह लण्ड अब केवल मेरा है. अब चल में थोड़ा तेरे पेनिस को ढीला कर देती हूँ उसके बाद में तुझे आराम से अपनी फुद्दी का पानी पिलाउंगी।

फिर इसके बाद रांड काजल ने मुझे एक पेग और दे दिया, एक एक सिगरेट को जलाकर वो मेरे बदन से चिपक गयी और मुझे खीचकर बिस्तर पर मेरे दोनों पैर सीधे करके पीठ के सहारे बैठा दिया. अब वो बोलने लगी कि चल अब तू आराम से अपनी ड्रिंक और सिगरेट पी, मेरा फौलादी लण्ड पकड़कर कहा कि तब तक में इस लण्ड की ड्रिंक और सिगरेट बनाकर पीती हूँ और इस बीच अगर तेरा पानी निकले तो तू उसको मेरे मुहं में निकाल देना क्योंकि अब में तुझे लण्ड चूसना किसको कहते है वो भी बताऊंगी।

दोस्तों मुझसे इतना कहकर रांड काजल ने अपने नरम रसीले कोमल होंठ मेरे लण्ड के टोपे पर जो तनकर एकदम लाल टमाटर की तरह हो रहा था, उस पर रख दिए और आहिस्ता आहिस्ता मेरी लुल्ली को अपने मुँह के भीतर जबान फेरते हुए सरकाने लगी. मेरी फुद्दी वाली बहानो मुझे नहीं पता कि तुम्हे लण्ड चूसते हुए कैसा लगता है, किन्तु में इतना बता सकता हूँ कि कोई भी मर्द मादरचोद अपना लण्ड चूसवाने के बाद बिना फुद्दी लिए रह नहीं सकता चाहे, उसके लिए बलत्कार ही क्यों ना करना पड़े. You May Like This >> कंप्यूटर टीचर की बुर को फाड़कर भोसड़ा बना डाला XXX Kahani

फिर मेरे ऊपर तो उस वक्त रांड काजल के नंगे बदन का नशा, विस्की का नशा, सिगरेट का नशा और रांड काजल से लण्ड चूसवाने का नशा ऐसा छाया हुआ था कि जैसे में उस वक्त किसी और दूसरी दुनिया में हूँ. फिर कुछ देर पहले तो रांड काजल बड़े प्यार और मोहब्बत से अपना मुँह ऊपर नीचे सरका सरकाकर मुझे लण्ड पीयाई का आनंद देने लगी, मेरा पूरा लण्ड रांड काजल के मुँह में समा नहीं पा रहा था, किन्तु वो बहुत जोश से मेरी आँखों में आँखे डालकर मज़े से चूस रही थी और मेरा तो उस मस्ती के मारे बड़ा बुरा हाल था. अब मैंने देसी रांड काजल का सर कसकर अपने हाथों में पकड़ लिया और हाथ से उसका सर ऊपर नीचे करने लगा, नीचे से अपने कुल्हे उछाल उछालकर रांड काजल के मुँह में ही शोर्ट देने लगा।

फिर जब में झड़ा तब मैंने कसकर रांड काजल का सर पकड़कर नीचे से एक धक्का लगाया जिसकी वजह से मेरा फौलादी लण्ड सीधा रांड काजल के गले में जाकर फंस गया और उस वक्त मेरा पूरा 9 इंच और 4 इंच मोटा लण्ड जड़ तक रांड ताऊजी के मुँह में घुसा हुआ था. अब मेरी झाट के बाल रांड काजल की नाक में घुस रहे थे जब में धक्का लगाकर रांड काजल के गले में अपना लण्ड फंसाकर झड़ रहा था. फिर उसी वक्त रांड काजल बुरी तरह से छटपटा रही थी और मुझसे दूर जाने की प्रयास कर रही थी, किन्तु मैंने भी कसकर उसका सर पकड़ा हुआ था और जब तक मेरे स्पर्म की आख़िरी बूँद नहीं निकली, मैंने देसी रांड काजल का सर नहीं छोड़ा।

दोस्तों रांड काजल सही में बहुत बड़ी चुदक्कड़ महिला थी इतनी तकलीफ़ होने के बाद भी वो मेरी लुल्ली का पानी चाट चाटकर पी गयी और उसने एक भी बूँद बाहर नहीं गिरने दी. फिर रांड काजल ने मेरा झड़ा हुआ लण्ड अपने मुँह से बाहर किया, में कहा कि ताईजी की आप मुझे माफ करना, किन्तु यह मेरा पहला अवसर था इस कारण से में अपने आप को कंट्रोल नहीं कर सका. अब रांड काजल ने मेरे कोमल होंठो को चूमते हुए कहा कि मेरी जान तू केवल मुझे रांड काजल बोल और मादरचोद में इसी तरह तो अपना बदन रगड़वाना चाहती हूँ, ठीक है थोड़ी तकलीफ़ हुई, किन्तु मेरे प्यारे मादरचोद कसम से जब से लड़की बनी हूँ, आज पहली बार लण्ड चूसने का वास्तविक आनंद मिला है।

फिर वो मेरी लुल्ली को सहलाते हुए बोलने लगी वाह ऐसा प्यारा और तगड़ा लण्ड हो तो में जिंदगी भर चूसती ही रहूं. अब अपने पेनिस को चूसने के बाद में भी थोड़ा सा मस्त हो चुका था, मैंने कहा कि हाँ क्यों नहीं रांड काजल तेरा इतना चुदस बदन है, तूने शादी से पहले किसी से चुदवाया या नहीं? अब रांड काजल बड़े दुख से कहने लगी अरे नहीं रे मेरे पास अपनी फुद्दी फड़वाने के और नये नये लण्ड लेने के मौके तो बहुत सारे थे, किन्तु मैंने सोचा था कि में अपनी फुद्दी को सुहाग रातवाले दिन ही अपने मर्द को दूँगी, किन्तु मुझे क्या पता था कि मेरी किस्मत में ऐसा चूतड़ू लिखा हुआ है साले के लण्ड में बिलकुल भी दम नहीं है.  अगर मुझे पता होता के तुम्हारा लण्ड है  तो में शादी के बाद से ही तुम से अपनी फुद्दी चुदवाकर और चूतड़ मरवाकर खूब जमकर सेक्स काआनंद उठाती मेरे राजा…  फिर इतना कहकर रांड काजल बिस्तर से उठी और अलमारी से सात इंच लंबा वाईब्रेटर लेकर आई और कहने लगी अभी तक तो मेरा वास्तविक मर्द यह है जिससे में अपनी फुद्दी की आग बुझाती हूँ।

दोस्तों यह था मेरा  पहली खतरनाक और धमाकेदार चुदाई का एक्सपीरियंस अपनी गदराई चुदक्कड़ रांड ताईजी के साथ जिसको मैंने बहुत मेहनत करके मन लगाकर रांड की तरह चोदा दोस्तों उस दिन के बाद से मेरी ताईजी मेरे लण्ड की दीवानी हो गयी है जब घर पर कोई नहीं होता है तब हम दोनों अधिकतर सेक्स करा करते है… सेक्स वर्कर की तरह जबरदस्त चोदा ताईजी को हिंदी फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में

.