XXX Vale – Hindi XXX Stories For Adults

18+ Sexually Explicit Contents

काजोल की गरम बुर मेरे स्पर्म से भर चुकी थी Hindi Sex Story

चुदाई के दौरान ब्यूटीफुल काजोल की गरम चूत मेरे स्पर्म से भर चुकी थी Indian New Hindi XXX Sex Story : राहुल को मैंने घर बुला लिया था राहुल की तबीयत ठीक नहीं थी इस कारण से मैंने उसे घर आने के लिए कहा वह उस दिन घर आ गया था. मेरा छोटा भाई जो की दिल्ली में नौकरी करता था उसकी तबीयत ठीक नहीं थी इस कारण से मैंने उसे कहा कि तुम घर आ जाओ और फिर वह दिल्ली लौट आया था. जब वह दिल्ली लौटा तो उसकी तबीयत काफी ज्यादा खराब थी इस कारण से हमे उसे हॉस्पिटल में एडमिट करना पड़ा. कुछ दिनों तक वह हॉस्पिटल में डॉक्टरों की देख रेख में रहा उसके बाद हम लोग उसे घर ले आए थे.

जब वह घर आया तो उसके बाद मुझे इस बात की प्रसनी थी कि वह अब ठीक हो चुका है काफी दिनो तक उसकी तबीयत खराब रहने के बाद वह अब ठीक था. यहाँ भी देखें>> अनचुदी ऑफिस गर्ल के साथ सेक्स करा मौका पाकर अन्तर्वासना सेक्स स्टोरी मैंने राहुल से कहा कि तुम दिल्ली में रहकर ही काम करो तो राहुल भी मेरी बात मान गया. पापा के देहांत के बाद घर की सारी रिस्पांसिबिलिटी मेरे ऊपर ही थी और मैं घर की रिस्पांसिबिलिटी को बखूबी निभा पा रहा हूं. मैं चाहता था राहुल हमारे साथ ही रहे. राहुल ने भी मेरी बात मान ली और वह हम लोगों के साथ दिल्ली में ही रहने लगा. कुछ वक्त तक तो राहुल ने नौकरी नहीं की किन्तु जब राहुल की नौकरी लग गई तो वह भी काफी प्रसन था और हम लोग भी इस बात से बहुत ज्यादा प्रसन थे कि राहुल अब दिल्ली में रहकर ही नौकरी कर रहा है.

चुदाई के दौरान काजोल की गरम बुर मेरे स्पर्म से भर चुकी थी Indian New Hindi XXX Sex Story

चुदाई के दौरान काजोल की गरम बुर मेरे स्पर्म से भर चुकी थी Indian New Hindi XXX Sex Story
चुदाई के दौरान काजोल की गरम बुर मेरे स्पर्म से भर चुकी थी Indian New Hindi XXX Sex Story

मां भी हमेशा ही मुझे कहती की बेटा तुम शादी कर लो किन्तु मैं शादी के लिए तैयार नहीं था. एक दिन मां ने मुझसे कहा कि शुभम बेटा मैं चाहती हूं कि तुम अब शादी कर लो. मैंने मां से कहा मां मैं अभी शादी के लिए तैयार नहीं हूं. मां ने मुझे कहा मैं चाहती हूं तुम अब शादी कर लो. मैं भी मां की बात मान गया और मैंने पहली बार काजोल से मुलाकात कि तो मुझे काजोल काफी अच्छी लगी. उसे मुझे समझने में काफी वक्त लगा क्योंकि हम दोनों की ना तो फोन पर बातें होती थी और ना ही हम दोनों एक दूसरे को मिल पाते थे. काजोल बहुत ही शर्मीले किस्म की है किन्तु जब हम दोनों की सगाई हो गई तो उसके बाद हम दोनों एक दूसरे को मिलने लगे थे. हम दोनों जब एक दूसरे को मिलने लगे तो मुझे भी काफी अच्छा लगने लगा और मैं काजोल के साथ बहुत प्रसन हूं.

हमारी शादी का दिन तय हो चुका था जब हम दोनों की शादी हुई तो उसके बाद हम दोनों की शादीशुदा जिंदगी बड़े ही अच्छे से चलने लगी. काजोल घर की देखभाल अच्छे से करती और घर में सब कुछ अच्छे से चल रहा था. मैं भी इस बात से बहुत ज्यादा प्रसन था कि घर में सब कुछ ठीक से चल रहा है. यहाँ भी देखें>> सुन्दर लड़की बॉयफ्रेंड से चुदते हुए देसी भारतीय अश्लील पोर्न विडियो एक दिन जब मैं अपने ऑफिस से घर लौटा तो उस दिन राहुल से मैंने पूछा राहुल तुम ऑफिस से कब आए. राहुल ने कहा भाई साहब मैं तो दोपहर मे ही आ गया था. मैंने राहुल से कहा सब कुछ ठीक तो है ना. राहुल ने मुझे कहा हां भाई साहब सब कुछ ठीक है मुझे आज कुछ ठीक नहीं लग रहा था मैंने सोचा कि आज दोपहर में ही घर चला जाऊं इस कारण से मैं घर चला आया.

  विद्यालय वाली मैडम के रसीले चुचे चूसने के बाद फुद्दी में लण्ड गुसा दिया हिन्दी संभोग कहानी

राहुल ने उस दिन मुझसे आयुषी का जिक्र किया. आयुषी जो राहुल के ऑफिस में काम करती है उसने मुझे बताया वह आयुषी से बहुत प्यार करता है किन्तु उन दोनों मे किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया था. राहुल ने पहली बार मुझसे इतनी खुलकर बातें की थी किन्तु मुझे इस बात की प्रसनी है कि राहुल अब मुझसे हर एक बात शेयर करने लगा था. मैंने राहुल को कहा कोई बात नहीं सब ठीक हो जाएगा. उस दिन राहुल का मूड ठीक नहीं था और मैंने भी सोचा क्यों ना आज हम सब लोग बाहर ही डिनर करने के लिए जाए. मैंने काजोल से कहा आज हम लोग डिनर करने के लिए चलते हैं. काजोल भी मान गई और हम लोग बाहर डिनर करने के लिए चले गए  जब हम लोग बाहर गए तो हम लोगों को काफी अच्छा लगा और हम लोग बहुत ज्यादा प्रसन थे.

मुझे अपने फैमिली के साथ वक्त बिताना बहुत ही अच्छा लगा और नेक्स्ट डे भी मेरी छुट्टी थी. मैं घर पर ही था उस दिन भी मैंने काजोल के साथ काफी अच्छा वक्त बिताया और काजोल भी बहुत प्रसन थी. काजोल और मैं एक दूसरे से बहुत प्यार करते हैं और काजोल मुझे बहुत ही अच्छे से समझती है. मुझे इस बात की बड़ी प्रसनी है कि काजोल और मेरे बीच बहुत ज्यादा प्यार है. जिस तरीके से वह मुझे समझती है वह मेरे लिए बहुत ही अच्छा है क्योंकि हम दोनों के बीच में कभी भी किसी बात को लेकर कोई झगड़े नहीं होते हैं. मेरे और काजोल के बीच सब कुछ अच्छे से चल रहा है और मैं बहुत ही ज्यादा प्रसन हूं. मुझे अपने काम के लिए बेंगलुरु जाना था तो उस दिन मैं अपने ऑफिस से घर लौटा और मैंने काजोल को इस बारे में बताया कि मैं कुछ दिनों के लिए बेंगलुरु जा रहा हूं.

काजोल ने मुझे कहा आप वहां से वापस कब लौटेंगे? मैंने काजोल से कहा मैं वहां से एक हफ्ते में वापस लौट आऊंगा. काजोल ने मेरा सामान पैक करने में मेरी सहायता की. हम दोनों जब एक दूसरे से बातें कर रहे थे तो मां कमरे मे आई और कहने लगी बेटा तुम खाना खा लो. अब हम लोगों ने खाना खाया और फिर उसके बाद मैं और काजोल रूम में आ गए. काजोल भी मुझसे बात करने लगी और बोलने लगी आप क्या अपनी किसी जरूरी काम से जा रहे है. मैंने काजोल को बताया हां ऑफिस का कोई जरूरी काम है इस कारण से मुझे कुछ दिनों के लिए बेंगलुरु जाना पड़ेगा. काजोल मुझे बोलने लगी काफी दिन हो गए हैं मैं पापा मम्मी से भी नहीं मिली हूं सोच रही हूं उन लोगों से मिल लूं. मैंने काजोल से कहा ठीक है तुम पापा मम्मी से मिल लो.

  एक लण्ड और दो बुर बहुत नाइंसाफी है XXX Hindi Sex Kahani

काजोल उसके नेक्स्ट डे पापा मम्मी को मिलने के लिए जाने वाली थी क्योंकि मुझे भी बेंगलुरु जाना था इस कारण से मैंने काजोल से कहा तुम पापा मम्मी से मिल आओ. यहाँ भी देखें>> मम्मी को पापा से चुदवाते देख भाई को अपनी अनचुदी बुर दे डाली हिंदी सेक्स स्टोरी काजोल ने मेरा हाथ पकड़ लिया और मैंने भी काजोल का कोमल हाथ पकड़ लिया था. जब हम दोनों एक दूसरे की तरफ देख रहे थे तो मुझे काजोल की आंखों में अपने लिए प्यार नजर आ रहा था. मैंने उसे अपनी बाहों में भर लिया था. जब मैंने काजोल को अपनी बाहों में भर लिया था तो वह मेरे लिए तड़प रही थी और मैं भी बहुत ज्यादा तडप रहा था. हम दोनों की तडप इतनी अधिक बढने लगी थी मैंने जैसे ही उसके लिप्स से अपने लिप्स को टकराना प्रारम्भ करा तो उसकी गर्मी बढ़ती ही जा रही थी और वह हॉट हो गई थी.

मैंने जब काजोल के सामने अपने लण्ड को किया तो वह मेरे शानदार पेनिस को बड़े ही अच्छे तरीके से चूसने लगी और उसने मेरे देसी मोटे लौड़े को तब तक चूसा जब तक मेरे तंदरुस्त लौड़े से पानी बाहर नहीं आ गया. मैं इतना ज्यादा हॉट हो चुका था मैं रह नहीं पा रहा था, मैं अपने आप पर काबू कर पा रहा था. मैंने काजोल के कपड़ों को उतारा तो मैंने उसे नंगा कर दिया. जब वह नग्न पोजीशन में थी तो मैं उसके गरम शरीर को महसूस करने लगा और उसके गरम शरीर को महसूस कर के मुझे बड़ा ही अच्छा लग रहा था. हम दोनों बहुत ज्यादा उत्तेजित हो रहे थे. मैंने उसके रसीले आम जैसे स्तनों को चूसना शुरू कर दिया था मैं उसके रसीले आम जैसे स्तनों को बडे ही अच्छी तरीके से चूस रहा था उस दिन मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था मैं उसके रसीले आम जैसे स्तनों को चूस रहा था.

जब मैंने उसकी चुत पर अपनी जबान को लगाया तो उसकी गरमा गर्म बुर बहुत ज्यादा मखमली हो गई थी. उसकी मखमली चूत से निकलता हुआ पानी बहुत ज्यादा बढ़ चुका था वह बोलने लगी तुम मेरी फुद्दी को चाटते रहो. मैंने उसकी चुत को बहुत देर तक चाटा उसकी गरम चुत पर एक भी बाल नहीं था और मैं उसकी गरम बुर को बहुत ही अच्छे से चाट रहा था मैंने उसकी चुत को तब तक चाटा जब तक उसकी मखमली योनि से पानी बाहर नहीं निकल गया था वह बहुत ज्यादा हॉट हो गई थी. मैंने उसकी गरम चुत पर अपने लण्ड को लगाकर उसकी गरम चूत के भीतर डालाना शुरु किया.

मेरा बड़ा मोटा लण्ड उसकी गरम चूत के भीतर जा चुका था और जब मेरा तंदरुस्त लौड़ा उसकी प्रजनन नलिका में प्रवेश हुआ तो मुझे आनंद आया. वह मुझे बोलने लगी मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा है मै उसकी प्रजनन नलिका में अपने लण्ड को डाले जा रहा था और मेरा तंदरुस्त लौड़ा उसकी गरम चूत में भीतर बाहर होता तो वह बहुत जोर से चीख कर मुझे कहती मुझे और तेज गति से चोदते जाओ. मैंने उसकी दोनों टांगों को कस कर पकड़ लिया था जिसके बाद वह मुझे बोलने लगी मुझे बहुत ज्यादा अच्छा लग रहा है जब हम दोनों एक दूसरे के साथ में सेक्स कर रहे थे तो हम दोनों को ही आनंद आ रहा था.

  सोसाइटी की भौजाई को पटा कर चुदाई की XXX Hindi Sex Kahani

मैं उसे बड़ी तेज रफ्तार से झटके मार रहा था और मैं उसे जिस तेज रफ्तार से झटके मार रहा था उससे वह हॉट सिसकारियां ले रही थी और मुझे बोलने लगी मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा है. मैंने उसे अब कुतिया बना लिया था कुतिया  बनाने के बाद जब मैंने काजोल की बुर को देखा तो उसकी गरम चूत से ब्लड बहार निकल रहा था वह जोर से सिसकारियां ले रही थी. उसकी सिसकारियां बढ रही थी उसकी गरम चूत के भीतर तक मेरा तंदरुस्त लौड़ा घुसा हुआ था.

वह मुझसे अपनी डबलरोटी जैसी गद्देदार गांड को टकराए जा रही थी और मुझे बहुत ही आनंद आ रहा था जब मैं उसे चोदता. वह मेरा साथ अच्छे से देती हम दोनों कुत्ते कमीनो ने एक दूसरे का साथ काफी अच्छे से दिया. जब मुझे महसूस होने लगा मेरा स्पर्म गिरने वाला है तो मैंने अपनी माल को काजोल की प्रजनन नलिका में गिरा दिया. यहाँ भी देखें>> चुदक्कड़ भौजाई सेठ के साथ रंगरेलियां बनाते पकड़ी गई Antarvasna Sex Story चुदाई के दौरान ब्यूटीफुल काजोल की गरम चूत मेरे स्पर्म से भर चुकी थी और मेरी तमन्ना पूरी हो चुकी थी. मुझे बहुत ही आनंद आया जिस तरीके से मैंने काजोल के साथ  शारीरिक सुख का आनंद लिया. उसकी गरम चूत का आनंद मैंने काफी देर तक लिया वह बड़ी प्रसन थी जिस तरीके से मैंने उसके साथ में सेक्स संबंध बनाए थे और उसकी तमन्ना को पूरा किया था.

काजोल मेरे मोटे लण्ड को दोबारा से चूसने लगी और उसने मेरे देसी मोटे लौड़े को दोबारा से खड़ा कर दिया था जिसके बाद मैंने उसे कहा तुम मेरे ऊपर से आ जाओ और वह मेरे लण्ड के अपने ऊपर नीचे अपनी डबलरोटी जैसी गद्देदार गांड को कर रही थी. वह अपनी इच्छाओं को पूरा कर रही थी और अपनी डबलरोटी जैसी गद्देदार गांड को ऊपर नीचे करती तो मुझे आनंद आता. मैंने उसे बहुत देर तक तक चोदा तब तक जाकर मेरी तमन्ना पूरी हुई है किन्तु मुझे बहुत ही आनंद आया जिस तरीके से मैंने और काजोल ने एक दूसरे का साथ दिया।

तो मेरे प्यारे भाई और बहनों थी ना ये देसी हिंदी फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में शानदार… हम www.xxxvale.com फैमिली के सदस्य उम्मीद करते हैं की आपको यह इंडियन हिंदी फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में “ चुदाई के दौरान काजोल की गरम बुर मेरे स्पर्म से भर चुकी थी Indian New Hindi XXX Sex Story ” बहुत पसंद आई होगी. देसी चुदाई वाली इस हिंदी फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी में को अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करना. इन इंडियन फ्री अश्लील XXX सेक्स कहानी हिंदी मेंज के अलावा यदि आप इंडियन देसी पोर्न विडियो देखना चाहते है या फिर न्यूड (नग्न) नंगी फोटो देखना चाहते है तो www.indiansexbazar.com वेबसाइट ज़रूर देखें…